top of page
  • Writer's pictureKAVI RAJ CHAUHAN

उच्चतम मानकों के साथ हो लोकसभा चुनाव: समितिजिला निर्वाचन अधिकारी को सौंपा हिमाचल ज्ञान विज्ञान समिति ने ज्ञापन

कविराज चौहान (सोलन)


हिमाचल ज्ञान विज्ञान समिति सोलन ने जिला निर्वाचन अधिकारी सोलन को एक ज्ञापन सौंप कर लोकसभा चुनाव उच्चतम मानकों के साथ करने की मांग की। इस मौके पर जिला ज्ञान विज्ञान समिति के प्रधान डॉ.बीएस पंवार, सचिव एडवोकेट डीसी रावत, राष्ट्रीय कार्यकरिणी सदस्य सीता राम ठाकुर, कोषाध्यक्ष अजय सिंह व अन्य मौजूद रहे।

डॉ. बीएस पंवार ने जारी बयान में कहा कि जो लोकतांत्रिक मूल्य एवं संवैधानिक प्रक्रियाओं में प्रगाड़ आस्था और विश्वास रखती हैं जिनमें से चुनाव भी एक महत्वपूर्ण प्रक्रिया है। यह देखा गया है कि कई राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों द्वारा चुनावों के दौरान अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए मतदाताओं को लुभाने हेतु कई प्रकार के प्रलोभन जैसे कि शराब, नशीली दवाओं और पैसों आदि का आबंटन किया जाता हैं, जिसकी वजह से स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव हो पाना असंभव हो जाता है।

इस तरह का अनैतिक आचरण हमारे लोकतंत्र की नींव को कमज़ोर करता है। नागरिकों को स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव के उनके मौलिक अधिकार से वंचित करता है। राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों का यह व्यवहार न केवल चुनावी प्रक्रिया को विकृत करता है बल्कि ये हमारी लोकतांत्रिक संस्थाओं में जनता का विश्वास भी कम करता है।

समिति लोकतांत्रिक मूल्यों की मज़बूती को कायम रखने के लिए तत्पर रहते हुए आप का ध्यान लोकसभा चुनाव 2024 में होने वाले संभावित अनाचार और गड़बडिय़ों की ओर आकृष्ट करते हुए उन पर रोकथाम की अपेक्षा रखती है और चुनावी प्रक्रिया को प्रलोभन मुक्त, निष्पक्ष और स्वतंत्र रूप से सम्पन्न करवाने का आग्रह करती है।

समिति ने किया ये आग्रह

1. चुनाव अवधि के दौरान अवैध दवाओं और शराब के वितरण और खपत का पता लगाने और रोकने के लिए प्रवर्तन तंत्र को मजबूत करें।

2. दबाव, रिश्वतखोरी और अन्य प्रकार की चुनावी धोखाधड़ी को रोकने के लिए मतदान केंद्रों पर सतर्कता बढ़ाएँ।

3. चुनाव के दौरान अवैध गतिविधियों में भाग लेने के नकारात्मक परिणामों के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए कानून प्रवर्तन एजेंसियों, नागरिक समाज संगठनों और अन्य हितधारकों के साथ समन्वय करें।

4. चुनावी अनाचार में लिप्त पाए जाने वाले व्यक्तियों के खिलाफ सख्त दण्डात्मक कार्यवाही करें, जिससे यह स्पष्ट संदेश जाए कि इस तरह के व्यवहार को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

इसके अलावा, हम आपसे चुनावी प्रक्रिया की अखंडता से समझौता करने वाली किसी भी संदिग्ध गतिविधि की निगरानी और ट्रैक करने के लिए प्रौद्योगिकी और नवीन समाधानों का उपयोग करने का अनुरोध करते हैं।

इन चुनौतियों का सक्रिय रूप से समाधान करके आप न केवल लोकतांत्रिक सिद्धांतों को कायम रखेंगे बल्कि चुनावी प्रणाली में हिमाचल प्रदेश के नागरिकों का विश्वास भी बहाल करेंगे।



13 views0 comments

ความคิดเห็น


bottom of page