top of page
  • मनीष सिरमौरी

जनप्रतिनिधि लोगो को कोरोना संक्रमण के प्रति जागरूक करने में निभाए सक्रिय भूमिका-डा0 परूथी

मनीष चौहान (दि शिरगुल टाइम्स)

उपायुक्त सिरमौर डा0 आर0के0 परूथी ने जिला के जनप्रतिनिधियों से लोगो को कोरोना संक्रमण के प्रति जागरूक करने में सक्रिय भूमिका निभाने का आग्रह किया है। उन्होंने जनप्रतिनिधियों से लोगो को कोरोना संक्रमण से बचने, कोई भी लक्षण होने पर टैस्ट करवाने तथा टीकाकरण के लिए प्रेरित करने का आह्वान किया।

उपायुक्त ने यह उदगार आज यहां बचत भवन में जिला परिषद सदस्यों, नगर परिषद नाहन के पार्षदो, व्यापार मण्डल, बार्बर एसोसिएशन तथा चेम्बर आफ काॅमर्स के साथ जिला में कोरोना संक्रमण की स्थिति पर चर्चा के लिए आयोजित बैठको की अध्यक्षता करते हुए व्यक्त किऐ।

उन्होने जन प्रतिनिधियों से आग्रह किया कि वह लोगों को कोरोना की जांच करवाने के लिए प्रेरित करें खासकर वह लोग जो हाल ही में कुम्भ मेले से लौटे है। उन्होंने जन प्रतिनिधियों को 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को कोरोना से बचाव के लिए टीकाकरण के लिए प्रेरित करने का सहयोग मांगा और होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों की निगरानी करने का आग्रह किया। उन्होने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए की होम आइसोलेशन में रह रहे व्यक्ति अपने घर से बाहर न निकले तथा उन्हें सभी जरूरी चीजें घर पर ही मुहैया करवाई जाए।

उपायुक्त ने जनप्रतिनिधियों से अपील करते हुए कहा कि वह लोगों से प्रदेश सरकार द्वारा जारी मानक संचालन प्रक्रिया का पालन करवाना सुनिश्चित करें। उन्होंने शादियों में एकत्रित होने वाली भीड पर अंकुश लगाने में सहयोग मांगा और यह सुनिश्चित करने को कहा कि विवाह समारोह तथा अन्तिम संस्कार में 50 से अधिक लोग एकत्रित न हो। इसके अतिरिक्त विवाह समारोह के आयोजन से पूर्व सम्बन्धित उप मण्डलाधिकारी से अनुमति लेने के लिए भी प्रेरित करे।

उपायुक्त ने शहरी क्षेत्रों में पार्षदों को अपने-अपने वार्ड में 45 वर्ष से अधिक आयु और 18 वर्ष से अधिक आयु के लोगो की सूचि तैयार करने को कहा ताकि हर वार्ड में कोरोना टीकाकरण का कैम्प लगाया जा सके।

उन्होंने व्यापार मण्डल के प्रतिनिधियों से आग्रह किया कि वह बाजार में सभी दुकानो पर नो मास्क नो सर्विस के सिद्धान्त का कड़ाई से पालन करवाना सुनिश्चित करें। इसके अतिरिक्त उन्होने बार्बर ऐसोशिऐशन के प्रतिनिधियों को जिला में सैलून, ब्यूटी पार्लर तथा स्पा के लिए बनाए गए एसओपी का पालन करवाना सुनिश्चित करने के निर्देश दिये।

बैठक के दौरान डा0 परूथी ने चैम्बर आफ काॅमर्स के सदस्यों को सभी उद्योगों में कोविड टैस्ट सुनिश्चित करने के आदेश जारी किये और महाप्रबंधक उद्योग ज्ञान चन्द को इसके लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किया। उपायुक्त ने सभी उद्योगपतियों को कोविड पॉजिटिव आने वाले मजदूरों को होम आइसोलेशन की बेहतर सुविधा उपलब्ध करवाने के निर्देश दिये। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिये कि कालाअम्ब व पांवटा साहिब में प्रतिदिन एक उद्योग में सभी मजदूरों की कोविड जांच करना सुनिश्चित करें। उन्होने उद्योगपतियो को कुम्भ से वापिस आये मजदूरो के कोविड टैस्ट प्राथमिकता के आधार पर करवाना सुनिश्चित करने के निर्देश दिये, और बाहरी राज्यों से उद्योगों में आ रहे कर्मचारियों से कोविड टैस्ट रिपोर्ट लेना अनिवार्य करने को कहा। उन्होंने बताया कि केवल आरटीपीसीआर द्वारा की गई कोविड जांच रिपोर्ट ही मान्य होगी। उन्होंने जिला के सभी उद्योगपतियों से प्रशासन के साथ सहयोग करने की अपील की ताकि इस कोरोना संक्रमण को रोका जा सके और जिला में लॉकडाउन की स्थिति से बचा जा सके।

बैठक के दौरान चिकित्सा अधिकारी डा0 के0के0 पराशर ने बताया कि जिला के सभी अस्पतालों में अभी ऑक्सीजन की सप्लाई पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि जिला में अभी तक 1 लाख 6 हजार 965 लोगों की कोरोना जांच की गई है जिसमें 5343 व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाये गए जिसमें से 4382 लोग ठीक हो चुके है तथा सक्रिय मामलों की संख्या 914 है। उन्होने बताया कि कोरोना संक्रमण की वजह से अभी तक 47 मौतें हो चुकी है। उन्होने बताया कि डेडीकेटिड कोविड हेल्थ केयर सराहां में अभी 26 व्यक्ति उपचाराधीन है तथा डा0 वाई0एस0 परमार राजकीय मेडिकल कॉलेज के आइसोलेशन वार्ड में 1 व्यक्ति उपचाराधिन है। इसके अतिरिक्त 887 लोग होम आइसोलेशन में है। उन्होने बताया कि जिला में कोविड टीकाकरण की कुल 76647 डोज लगाई गई है जिसमें पहली डोज 63407 और दूसरी डोज 11240 लगी है। उन्होने बताया कि कोरोना की पाॅजीटिवीटी दर 4.9 प्रतिशत, मृत्यु दर 0.84 प्रतिशत तथा रिकवरी दर 82.05 प्रतिशत है।

0 views0 comments
bottom of page