top of page
  • Writer's pictureमनीष सिरमौरी

डाॅ. शांडिल ने किया 14वीं ज़िला स्तरीय ITI खेलकूद एवं सांस्कृतिक प्रतियोगिता का शुभारंभ

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता तथा श्रम एवं रोज़गार मंत्री डाॅ. कर्नल धनीराम शांडिल ने आज सोलन के ऐतिहासिक ठोडो मैदान में 14वीं ज़िला स्तरीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान खेलकूद एवं सांस्कृतिक प्रतियोगिता का शुभारम्भ किया।

डाॅ. शांडिल ने इस अवसर पर छात्रों का आह्वान किया कि वह कठिन परिश्रम और दृढ़ता के साथ कार्य कर अपना लक्ष्य प्राप्त करें। उन्होंने कहा कि युवाओं को सदैव यह स्मरण रखना होगा कि कोई भी कार्य छोटा या बड़ा नहीं होता और परिश्रम के साथ व्यक्ति प्रत्येक कार्य में निपुण बन सकता है।


श्रम एवं रोज़गार मंत्री ने कहा कि औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान युवाओं को रोज़गार एवं स्वरोज़गार का बेहतर साधन प्रदान करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हंै। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार आई.टी.आई में ऐसे पाठ्यक्रम आरम्भ करने जा रही है जो युवाओं को भविष्य की आवश्यकताओं के अनुरूप तैयार करेंगे। सोलन और नालागढ़ औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में कौशल विकास निगम के माध्यम से ड्रोन सर्विस टेकनिश्यिन पाठ्यक्रम चरणबद्ध तरीके से शुरू किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि यह पाठ्यक्रम युवाओं को बेहतर रोज़गार व स्वरोज़गार प्रदान करेगा।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के बेरोज़गार युवाओं को उनकी योग्यता के अनुरूप रोज़गार के अवसर उपलब्ध कराने के उद्देश्य से सोलन के ऐतिहासिक ठोडो मैदान में 03 मई, 2023 को मैगा रोज़गार मेले का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने युवाओं से आग्रह किया कि अपनी शैक्षणिक योग्यता के अनुरूप इस रोज़गार मेले में भाग लेकर बेहतर रोज़गार प्राप्त करें।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू के नेतृत्व में हिमाचल प्रदेश सरकार निराश्रित बच्चों के साथ-साथ बेसहारा महिलाओं के सुख व आश्रय के लिए सुखाश्रय योजना आरम्भ की है। वर्तमान सरकार के इस फैसले से हिमाचल प्रदेश में जहां हजारों बेसहारा बच्चों की पढ़ाई-लिखाई का खर्च सरकार वहन करेगी, वहीं 27 वर्ष तक इनका पूरा खर्च भी उठाया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार इन निराश्रितों की एक अभिभावक के रूप में परवरिश भी करेगी। उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत एकल नारी को आवास निर्माण के लिए 1.50 लाख रुपये उपलब्ध करवाए जाएंगे।

डाॅ. शाडिल ने इस अवसर पर युवाओं से आग्रह किया कि वह नशे से दूर रहें और खेलों के माध्यम से अपनी ऊर्जा को सही दिशा प्रदान करें।


डाॅ. शांडिल ने प्रतियोगिता के लिए अपनी ऐच्छिक निधि से 21 हजार रुपये देने की घोषणा की।

प्रतियोगिता में सोलन ज़िला की आईएसईडी अम्बुजा प्राईवेट आई.टी.आई दाड़लाघाट, आनंद प्राईवेट आई.टी.आई नालगढ़, राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान अर्की, बीटीटीआई प्राईवेट आई.टी.आई बद्दी, राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान दिग्गल, दून प्राइवेट आई.टी.आई बरोटीवाला, जोगों प्राइवेट आईटीआई, हरि ओम प्राइवेट आई.टी.आई दिग्गल, राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान कनोला, स्टेट आॅफ द आॅर्ट राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान कण्डा, राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान कसौली, राजकीय आदर्श औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान नालागढ़, आर.एन.टी.एम प्राइवेट आई.टी.आई परवाणु, राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान सायरी, वरटैक्स प्राइवेट आई.टी.आई कोटलानाला सोलन तथा राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान सोलन के 373 छात्र भाग ले रहे हैं।


इस प्रतियोगिता में कब्बडी, खो-खो, वाॅलीबाल, बास्केटवाॅल, बेडमिंटन एवं वू-शू, दौड़, हाई जम्म, ट्रिपल जम्प के साथ-साथ एकल गीत, समूह-गान, स्किट एवं नृत्य जैसी सांस्कृतिक प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है।

इस अवसर पर नगर निगम सोलन की महापौर पूनम ग्रोवर, जोगिन्द्रा केन्द्रीय सहकारी बैंक के अध्यक्ष मुकेश शर्मा, ज़िला कांग्रेस के अध्यक्ष शिव कुमार, खण्ड कांग्रेस सोलन के अध्यक्ष संजीव ठाकुर, ज़िला कांग्रेस के सचिव प्रिंस, शहरी कांग्रेस सोलन के अध्यक्ष अंकुश सूद, उपाध्यक्ष रजत थापा, नगर निगम सोलन के पार्षद सरदार सिंह ठाकुर, ऊषा शर्मा, खण्ड कांग्रेस समिति के महासचिव नरेन्द्र कुमार, जोगिन्द्रा केन्द्रीय सहकारी बैंक निदेशक मण्डल के सदस्य जितेन्द्र कुमार, हिमाचल प्रदेश कांग्रेस समिति के सचिव विनोद कुमार, ज़िला कांग्रेस के महासचिव मनीष शर्मा, उपमण्डलाधिकारी सोलन कविता ठाकुर, प्रधानाचार्य औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान सोलन ललित कुमार, प्रधानाचार्य औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान कसौली सुभाष शर्मा सहित विभिन्न औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान प्रधानाचार्य एवं छात्र उपस्थित थे।

20 views0 comments

Comments


bottom of page