top of page
  • Writer's pictureमनीष सिरमौरी

देवना गांव में विजट महाराज के मंदिर पर लगाया गया खनिउड, हजारों लोगों ने लिया देवता का आशीर्वाद,

हिमाचल प्रदेश का सिरमौर जिला सदियों से ही पारंपरिक रीति रिवाजो के लिए जाना जाता है। यहा के लोगो की देवी देवताओं में कितनी आस्था है इसका उदाहरण आज नोहराधार के देवना गांव में देखने को मिला। देवना गांव में आज विजट महाराज के प्राचीन मंदिर की छत पर खनिउड स्थापित किया गया।

खनिउड देवदार के पेड़ की लकड़ी से बनाया जाता है तथा यह मंदिर के सबसे ऊपरी हिस्से में स्थापित किया जाता हैं। खनिउड के लिए पेड़ काटने से लेकर इसकी नक्काशी व इसको स्थापित करने तक इसे पूरे रीती रिवाज व धार्मिक विधि से इसकी देखभाल की जाती हैं।

बताया जा रहा हैं कि इससे पहले इस मंदिर पर 1865_66 ईस्वी में इस मंदिर पर खनिउद लगाया गया था, जिसके बाद आज फिर से पूरे रीती रिवाजों व धार्मिक विधि से यहां पर आज अनुष्ठान करवाया गया।

इस धार्मिक अनुष्ठान में हजारों की संख्या में श्रद्धालुओं ने हिस्सा लिया। नोहराधार क्षेत्र के दर्जनों गांव से देवना, थंगा, नोहरा, चौरास, घनडोरी, चारना चुनवी, देवा मानल, भराड़ी, भानरा पुन्नरधार, व अन्य कई गांव के लोगो ने अनुष्ठान में भाग लेकर देवता का आशीर्वाद लिया। देवना थनगा गांव के लोगो ने इस अनुष्ठान में अपने सभी रिश्तेदारों व दाईचारे के लोगो को भी इस कार्यक्रम में आमंत्रित किया था।

88 views0 comments

Comments


bottom of page