top of page
  • मनीष सिरमौरी

पांच भर्तियां कोर्ट में छठी का पेपर लीक

(द शिर्गुल टाइम्स)

शिमला पिछले करीब छह साल से जेओए आईटी की कई भर्तियां अधर में लटकी हुई हैं। जेओए आईटी की पांच भर्तियां पहले से कोर्ट में फंसी हुई हैं। अब छठी भर्ती पेपर लीक में फंस गई है। जूनियर ऑफिस असिस्टेंट आईटी की पोस्ट कोड 447, 556, 817, 903, 939 भर्तियां अदालतों में अटकी हैं। रविवार को आयोजित की जाने वाली जेओए आईटी की परीक्षा के लिए एक लाख से अधिक अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था, लेकिन अब पेपर लीक होने के बाद कर्मचारी चयन आयोग की ओर से परीक्षा रद्द कर दी गई ,

प्रदेश में सत्ता परिवर्तन हो चुका है और आते ही कांग्रेस सरकार ने एक लाख युवाप ओं को रोजगार देने की बात कही है, लेकिन कर्मचारी चयन आयोग के तहत जेओए आईटी की सैकड़ों भर्तियां साल 2017 से कोर्ट में फंसी है। ऐसे में सरकार को एक लाख लोगों को रोजगार देने से पहले कोर्ट में फंसी इन भर्तियों को क्लीयर करवाना होगा। भाजपा सरकार में भी लगातार ये मुद्दा उठता रहा, लेकिन कोर्ट के मामलों को सरकार सुलझा नहीं पाई। इस कारण जेओएआईटी की भर्तियां अधर में लटकी हुई हैं। जेओए आईटी के लिए आवेदन करने वाले युवा जिन्होंने भारी-भरकम फीस फॉर्म भरने के लिए तो दी, लेकिन वे अब तक रिजल्ट और भर्तियों के इंतजार में हैं।

9 views0 comments
bottom of page