• मनीष

पांवटा साहिब विधानसभा क्षेत्र में 214 करोड़ रुपये की विकासात्मक रियोजनाओं के उद्घाटन और शिलान्यास

MANISH (THE SHIRGUL TIMES)

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज जिला सिरमौर के पांवटा साहिब विधानसभा क्षेत्र के भरली में 214 करोड़ रुपये से अधिक लागत की विकासात्मक परियोजनाओं के उद्घाटन और शिलान्यास करने के उपरान्त एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार विकास की दृष्टि से उपेक्षित क्षेत्रों पर विशेष ध्यान केन्द्रित करते हुए राज्य के सभी क्षेत्रों के संतुलित एवं समग्र विकास पर बल दे रही है।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने राज्य को 800 करोड़ रुपये प्रदान किए हैं ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि विकास में धन की कमी न आए। उन्होंने कहा कि इससे राज्य सरकार द्वारा क्षेत्र के लोगों की इच्छानुसार विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं का क्रियान्वयन संभव हो सकेगा।

जय राम ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार ने महिला सशक्तिकरण के लिए अनेक योजनाएं आरम्भ की हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में 3.25 लाख से अधिक गैस कनेक्शन निःशुल्क प्रदान किए गए और अब उन्हें तीन निःशुल्क सिलेंडर भी उपलब्ध करवाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि शगुन योजना के तहत बीपीएल परिवारों की बेटियों को विवाह के समय 31000 रुपये दिए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेताओं ने समाज के कमजोर वर्गों के कल्याण के बारे में कभी नहीं सोचा। कांग्रेस ने महामारी के कठिन दौर में राज्य के लोगों को गुमराह करने के अलावा और कुछ नहीं किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने निर्णय लिया है कि 60 यूनिट तक बिजली खपत पर जीरो बिलिंग की जाएगी, जिससे लगभग 5 लाख विद्युत उपभोक्ता लाभान्वित होंगे। उन्होंने कहा कि किसानों के लिए बिजली की दर 30 पैसे प्रति यूनिट होगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सशक्त और गतिशील नेतृत्व में भाजपा निश्चित रूप से राज्य में दोबारा सरकार बनाएगी। उन्होंने राज्य के लोगों से प्रदेश सरकार को अपना पूरा समर्थन देने का भी आग्रह किया ताकि विकासात्मक कार्यों की गति बनाए रखी जा सके।

जय राम ठाकुर ने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला भागनी और जमनीवाला में विज्ञान प्रयोगशाला स्थापित करने, भरली गांव में अटल आदर्श विद्यालय खोलने, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र राजपुर को 50 बिस्तर क्षमता में स्तरोन्नत करने, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र गोरखुवाला में 10 बिस्तर की सुविधा उपलब्ध करवाने, ग्राम पंचायत अजोली में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोलने, किशनपुरा में आयुर्वेदिक औषधालय खोलने और राजपुरा तथा खण्डनवाला में नई उप-तहसीलें खोलने की घोषणा की।

उन्होंने कंडोवाला में नया शैक्षणिक खण्ड खोलने और छल्लुवाला, किशन कोट और गांेदपुर में राजकीय प्राथमिक पाठशालाएं खोलने की घोषणा की।

मुख्यमंत्री ने राजकीय प्राथमिक पाठशाला बोबरी, चिलोई, भुप्पुर और राजपुर को राजकीय माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करने, राजकीय माध्यमिक पाठशाला कंदेला, दंगराण, बेहाडवाला तथा भटानावाली को राजकीय उच्च पाठशाला में स्तरोन्नत करने, राजकीय उच्च पाठशाला कोटड़ी ब्यास, किशनपुरा तथा कोद्री माजरा को राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करने की भी घोषणा की। उन्होंने क्षेत्र की 6 पाठशालाओं को संबंधित क्षेत्रों के शहीदों के नाम पर नामित करने तथा राजकीय महाविद्यालय भरली का नाम अटल बिहारी वाजपेयी राजकीय महाविद्यालय करने की भी घोषणा की। उन्होंने राजकीय महाविद्यालय पांवटा साहिब में इतिहास, भूगोल, रसायन शास्त्र और गणित विषय में स्नातकोत्तर कक्षाएं शुरू करने की घोषणा की।

मुख्यमंत्री ने राजकीय महाविद्यालय पांवटा साहिब के 4.40 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित प्रशासनिक खण्ड, 3.65 करोड़ रुपये की लागत के अग्निशमन केन्द्र भवन, डाकपत्थर सड़क पर खोरोवाला और मेहरूवाला में 1.25 करोड़ रुपये लागत के पुलों, राजकीय महाविद्यालय भरली के 8.08 करोड़ रुपये से निर्मित भवन, डाकपत्थर धौली खड्ड पर 65 लाख रुपये से निर्मित पुल, ग्राम पंचायत बढाना में उठाऊ पेयजल योजना किलौर के 63 लाख रुपये लागत के संवर्द्धन कार्य, शिवा, शमिलाया, बनौर और पावंटा साहिब तथा साथ लगते गांवों के लिए 2.14 करोड़ रुपये की उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना, 90 लाख रुपये के इको पार्क वन विहार रामपुरघाट, जगतपुर जहोरो में 10.50 करोड़ रुपये की लागत से स्थापित 33/11 केवी विद्युत उप केन्द्र और रामपुरघाट में 3.73 करोड़ रुपये से निर्मित वर्किंग वुमन हॉस्टल के लोकार्पण किए।

इसके उपरान्त मुख्यमंत्री पुरूवाला में तिब्बती गोम्पा भी पहुंचे।

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कश्यप ने मुख्यमंत्री से, ऊर्जा मंत्री द्वारा प्रस्तुत की गई क्षेत्र की विभिन्न विकासात्मक मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि हाल ही में देश के चार राज्यों में हुए चुनाव में मिली विजय की तर्ज पर भाजपा निश्चित रूप से राज्य में भी मिशन रिपीट सुनिश्चित करेगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने इस वित्त वर्ष के लिए प्रस्तुत किए गए बजट में समाज के प्रत्येक वर्ग को राहत प्रदान की है। उन्होंने मुख्यमंत्री से जिले के ट्रांस गिरी क्षेत्र को जनजातीय क्षेत्र का दर्जा देने के मामले को प्रभावी ढंग से उठाने का भी आग्रह किया, क्योंकि इससे क्षेत्र की 144 पंचायतों के 3 लाख से अधिक लोग लाभान्वित होंगे।


7 views0 comments