• मनीष

पाकिस्तान से जुड़ा मिला, नालागढ़ कोर्ट फायरिंग केस का कनेक्शन, ISI व बंबीहा गैंग से संबंध

नालागढ़ कोर्ट परिसर में हुई फायरिंग के पीछे आतंकी और गैंगस्टर कनेक्शन का खुलासा हुआ है। दिल्ली पुलिस के स्पेशल सैल ने खुलासा किया है कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई ने नालागढ़ कोर्ट परिसर से बंबीहा गैंग के एक खूंखार गैंगस्टर को छुड़ाने की साजिश रची थी। फायरिंग कर बंबीहा गैंग के शूटर को छुड़ाने का पूरा प्लान सरहद पार बैठे आतंकी रिंदा के कहने पर तैयार किया गया था, जो हिमाचल पुलिस ने नाकाम कर दिया ।


जानकारी के मुताबिक यूरोप में बैठे गैंगस्टर लकी पटियाल के इशारे पर इस काम को अंजाम देने के लिए हैंड ग्रेनेड और दूसरे हथियार सप्लाई किए गए। नालागढ़ कोर्ट परिसर में फायरिंग मामले से जुड़े 6 गैंगस्टरों को भी गिरफ्तार किया गया है। ये सभी बंबीहा गैंग से जुड़े हैं। पकड़े गए गैंगस्टर पंजाब और हरियाणा के रहने वाले हैं। जिन्हें दिल्ली, चंडीगढ़ और पंजाब से गिरफ्तार किया गया।

दिल्ली पुलिस के स्पेशल सैल के स्पेशल सीपी एचजीएस धालीवाल ने खुलासा किया है कि यूरोप में बैठे गैंगस्टर लकी पटियाल के इशारे पर इस काम को अंजाम देने के लिए हैंड ग्रेनेड और दूसरे हथियार सप्लाई किए गए। धालीवाल का कहना है कि पहले चार आरोपियों द्वारा नालागढ़ कोर्ट में फायरिंग कराकर शूटर अजय उर्फ सन्नी लेफ्टी को छुड़वाना और पंजाब व हरियाणा के बदमाशों का एक साथ आना किसी बड़े आपराधिक गठबंधन को प्रकट करता है जो कि आने वाले समय में किसी भी बड़ी घटना को अंजाम दे सकते थे। दिल्ली पुलिस ने अपराधियों को समय रहते पकड़ने में सफलता हासिल की।

29 अगस्त को नालागढ़ कोर्ट से विक्की मिड्डूखेड़ा हत्याकांड के मुख्य शूटर सन्नी उर्फ लेफ्टी को कोर्ट परिसर के बाहर से छुड़ाने के लिए बंबीहा गैंग के गैंगस्टरों ने फायरिंग की थी । पुलिस की सक्रियता के चलते आरोपी सन्नी को छुड़ाने में कामयाब नहीं हो पाए थे। अभी तक मामले से जुड़े 6 गैंगस्टरों को भी गिरफ्तार किया गया है।

53 views0 comments