top of page
  • Writer's pictureKAVI RAJ CHAUHAN

व्यवस्था परिवर्तन के सकारात्मक प्रभाव का साक्षी बना अंतरराष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव

सुख की सरकार के सकारात्मक प्रयासों से अंतर्राष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव मंडी में व्यवस्था परिवर्तन का प्रभाव नज़र आ रहा है।

मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू के गतिशील नेतृत्व में जिला प्रशासन मंडी ने इस बार शिवरात्रि महोत्सव में राज्य सरकार की तर्ज पर पुरानी व्यवस्था में नई जान भरने की नवीन पहल की है।

प्रदेश सरकार ने मंडी शिवरात्रि मेले की प्राचीन प्रथा तथा संस्कृति को संरक्षित करने के लिए पड्डल मैदान की जगह ऐतिहासिक सेरी मंच में सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित करने का निर्णय लिया है।

मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि प्रदेश सरकार ने मंडी की जनता की भावनाओं को समझते हुए सांस्कृतिक कार्यक्रम स्थल को सेरी मंच के लिए स्थानांतरित किया है। देव समाज को सुविधा प्रदान करने के उद्देश्य से उनके रहने की व्यवस्था संस्कृति सदन कंगनीधार में की गई है।

वृद्धाश्रमों और अनाथालयों में रहने वाले आवासियों को मुख्यधारा से जोड़ने के लिए मंडी जिला के वृद्धाश्रमों और अनाथालयों में रहने वाले 53 आवासियों को अंतर्राष्ट्रीय शिवरात्रि महोत्सव मंडी की सांस्कृतिक संध्याओं में भाग लेने का अवसर भी प्रदान किया गया है।

इस निर्णय से इन आवासियों को अपनी कला को प्रदर्शित करने के लिए उपयुक्त मंच मिलेगा। जिला प्रशासन द्वारा अनाथ बच्चों को शिवरात्रि उत्सव में भाग लेने के लिए विशेष व्यवस्था की गई है।

मुख्यमंत्री ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने राज्य की जनता से व्यवस्था में सुधार का वायदा किया है। उन्होंने कई अवसरों पर यह कहा कि वह सत्ता सुख के लिए नहीं बल्कि प्रदेश के विकास के लिए व्यवस्था परिवर्तन की दिशा में निरंतर कार्य कर रहे हैं।

3 views0 comments

Commentaires


bottom of page