top of page
  • Writer's picture कवि राज चौहान (शिमला)

सिंबलबाड़ा में राष्ट्रीय पशु मिलने से वन्य जीव विभाग प्रसन्न

हिमाचल प्रदेश में सिरमौर जिले की पांवटा घाटी में स्थित सिम्बलबारा राष्ट्रीय उद्यान ने पहली बार बाघ को देखा है। शिमला वन्यजीव विभाग ने ट्विटर पर कैमरे में कैद एक तस्वीर जारी की।

यह हिमाचल में नियमित वन्यजीव निगरानी के सौजन्य से रिकॉर्ड की गई बाघ की पहली कैमरा ट्रैप छवि थी। सिंबलबारा नेशनल पार्क में बाघ का पहला रिकॉर्ड और हिमाचल में बाघ की पहली कैमरा ट्रैप तस्वीर रिकॉर्ड की गई। शिमला वन्यजीव विभाग ने 21 फरवरी को ट्वीट किया, रेंज अधिकारी श्री सुरेंद्र सिंह के नेतृत्व में हमारे कर्मचारियों द्वारा नियमित वन्यजीव निगरानी

सिंबलबाड़ा, मूल रूप से सिरमौर के महाराजा के लिए एक शिकारगाह है, जो सांभर, चित्तीदार हिरण, भौंकने वाले हिरण, जंगली सूअर, नीले बैल और अन्य जानवरों का घर है। इसे कर्नल शेर जंग नेशनल पार्क के नाम से भी जाना जाता है। “अच्छी खबर जंगल का राजा अब हिमाचल में है। सिम्बलबारा राष्ट्रीय उद्यान से हिमाचल में टाइगर की ये पहली कैमरा ट्रैप तस्वीरें हैं। सिंबलबारा के कर्मचारियों को उनके नियमित निगरानी प्रयासों से मिली इस सफलता के लिए धन्यवाद।” टाइगर ने हिमाचल के कर्नल शेरजंग नेशनल पार्क (Colonel Sherjung National Park) के अलावा हरियाणा (Haryana) के कलेसर नेशनल पार्क (Kalesar National Park) को स्थाई ठिकाना बना लिया हो। करीब डेढ़ माह से टाइगर ने इलाके को नहीं छोड़ा है। 12 फरवरी को भी जंबूखाला के नजदीक टाइगर की मौजूदगी की संभावना जताई गई थी। यमुना नदी (Yamuna River) के पार उत्तराखंड का राजा जी नेशनल पार्क (Raja Ji National Park) है। नेचुरल तौर पर इस पार्क से यमुना नदी से होते हुए एक गलियारा बन चुका है। इस बार तो टाइगर की तस्वीर क्लिक हुई है। लगातार ही टाइगर के इलाके में पदचिन्ह भी मिल रहे हैं।

bottom of page